none

क्या आपने SWOT Anyalsis के बारे सुना है?

स्वॉट विश्लेषण 1960 के दशक में अल्बर्ट हम्फ्री द्वारा गढ़ा गया एक शब्द है। इसमें ताकत, कमजोरी, अवसर और धमकियां शामिल हैं। किसी कंपनी की Strenght, Weakness, Opportunities & Threats  जानने के लिए और उनके अनुसार कार्य करने के लिए स्वॉट विश्लेषण किया जाता है। यह संभव नहीं है कि सभी कंपनियों के पास केवल ताकत और या केवल कमजोरियां होंगी। ताकत के साथ-साथ कमजोरियां भी हैं।

स्वॉट विश्लेषण किसी कंपनी के लिए नहीं बल्कि एक व्यक्ति के लिए भी लागू होता है। जब आप एक साक्षात्कार के लिए आते हैं, तो आप इस प्रश्न का सामना करेंगे “आपकी ताकत और कमजोरियां क्या हैं? क्या आपने किसी खतरे का सामना किया है? “

इसी तरह, एक maketer को कंपनी के लिए स्वॉट विश्लेषण करना पड़ता है क्योंकि उसे अपने प्रतिद्वंद्वियों से लगातार खतरों का सामना करना पड़ता है और अपनी कमज़ोरियों को दूर करना और अपनी ताकत पर ध्यान देना कंपनी का प्राथमिक उद्देश्य होता है।

इस ब्लॉग में, हम SWOT Anyalsis कैसे करें, SWOT Anyalsis के फायदे और SWOT Anyalsis के कुछ उदाहरणों पर अधिक चर्चा करेंगे।

  1. SWOT Analysis क्या है?

  2. SWOT का क्या उपयोग है?

  3. SWOT  कौन कौन कर सकता है?

  4. SWOT Analysis कैसे करते है?

  5. Strength और Weakness क्या हैं?

  6. Opportunities और Threats  क्या है?

  7. SWOT Anyalsis का उद्देश्य

  8. SWOT Anyalsis कैसे लागू किया जाए?

  9. SWOT Analysis के उदाहरण 

1. SWOT Analysis क्या है?

SWOT Analysis एक तकनीक है जिसकी सहायता से हम किसी ग्रुप,आर्गेनाईजेशन और किसी पर्सन का खूबियो , कमजोरियां अवसरों और चुनौतियों का पता लगा सकते हैं। यह स्टार्टअप और बिज़नेस के लिए काफी उपयोगी हैं. मुख्य रूप से स्वॉट एनालिसिस किसी आर्गेनाईजेशन या ग्रुप को इफेक्टिव बनाने में मदद करता हैं।

SWOT चार अलग अलगअक्षर को जोड़ कर बनाया गया एक शब्दहै जो कि

⦁          S = Strength(ताकत )

⦁         W = Weaknesses(कमजोरी )

⦁         O = Opportunities(अवसर)

⦁         T = Threats(खतरा )

मुख्य रूप से SWOT विश्लेसन हमारे अंदर के ताकत ,कमजोरी ,अवसरों और चुनातियों को पहचानने में मदद करता है i हम कह सकते है कि यह एक शब्द नहीं बल्कि एक तकनीक है जो कि हमारे अन्दर के चार स्तंभ का विश्लेसन करने में मदद करता है SWOT की सहायता से हम किसी भी व्यक्ति या organisation के भविस्य का विश्लेसन कर सकते है|

swot-analysis-

2. SWOT का क्या उपयोग है?

यह स्टार्टअप और बिज़नेस के लिए काफी उपयोगी है | कोई भी organisation के अंदर क्या चल रहा है | इसके लिए हमे ताकत और कमजोरी पर फोकस करना होगा | और organisation के बाहर क्या चल रहा है इसके लिए हमे अवसरों और चुनौतियों पर फोकस करना होगा | यह आपके competitor के कमजोरियों को समझने में काफी मदद करता है ताकि आप अपने organisation को और बेहतर बना सके |

3. SWOT  कौन कौन कर सकता है ?

एक आदमी जिन्हें अपनेorganisation के बारे में पूरी जानकारी है | पर मुख़्य रूप से यह काम आर्गेनाईजेशन के leader और founder का होता है | बहुत सारे organisation यह काम organisation के अलग अलग sectors के लीडर को दे देते है | पर यह एक गलत तरीका है क्योकि कोई भी organisation को उसके फाउंडर से अच्छा कोई नहीं समझ सकता |

4. SWOT Analysis कैसे करते है ?

  • organisation के हर एक सेक्टर से एक एक लीडर के साथ कम से कम एक-दो घंटे का मीटिंग सेट करे |
  • ताकत, कमजोरी, अवसर और चुनौतियों का चार भाग में बाँट दे |
  • organisation के बारे में सबका नज़रिया जाने |
  • सभी की सहमति से अंतिम निर्णय ले |

आज के दौर में चीजें बहुत जल्दी बदल रही है | इस बदलते दौर में बने रहने के लिए हर 6 -12 महीने में हमे SWOT analysis करते रहना चहिए | ताकि हमारा बिज़नेस और स्टार्टअप आगे बढ़ता रहे |

आज के दौर में चीजें बहुत जल्दी बदल रही है | इस बदलते दौर में बने रहने के लिए हर 6 -12 महीने में हमे SWOT analysis करते रहना चहिए | ताकि हमारा बिज़नेस और स्टार्टअप आगे बढ़ता रहे |

SWOT मुख्य रूप से ताकत ,कमजोरियों ,अवसरों और चुनौतियों की पहचान करता है | SWOT एनालिसिस एक रणनितिक योजना है जो बिज़नेस और आर्गेनाईजेशन के मार्केटिंग और मैनेजमेंट के लिए काफी उपयोगी है | SWOT को हम दो हिस्सों में बाँट सकते है | SW और OT यानि ताकत ,कमजोरी और अवसर और खतरे |swot analysis सबसे पहले हम ताकत और कमजोरी को जानते है फिर अवसरों और खतरों को जानेंगे |

 

 

5. Strength और Weakness क्या हैं?

ताकत और कमजोरी internal environment है | internal environment अनुकूल और प्रतिकूल भी हो सकती है |
यह किसी भी आर्गेनाईजेशन का एक रणनीतिक योजना होती है | ताकत का मतलब कॉम्पिटिटर के कमजोरियों से आपका क्या फायदा है | और कमजोरियों का मतलब आप अपने उत्पाद या सेवा में क्या सुधर कर सकते है | ताकत का मतलब शक्ति यह एक पॉजिटिव फैक्टर है | SWOT अनलिसिस कोई भी कंपनी के लिए काफी फायदेमंद है |

उदारण के लिए -एप्पल PHONE यदि मार्किट में नया प्रोडक्ट लांच करती है तो apple का नाम सुनते ही दिमाग में एक अच्छा ब्रांड का नाम आता है | क्योकि apple कम्पनी का रेपुटेशन काफी अच्छा है और यह एक अच्छा ब्रांड है | जिसके वजह से एप्पल कंपनी को प्रोडक्ट बेचने के लिए जादा मेहनत नहीं करनी पड़ती है | प्रोडक्ट का बाजार में अच्छा कॉम्पिटशन बनाये रखने का मुख्य कारण लगत ,डिस्ट्रीब्यूशन चैनल और ब्रांड equity होता है |

इंटरनल इनविरोन्मेंट के कुछ मुख्य कारक |

  • वित्तीय संसाधन क्या हैं?
  • प्रबंधकीय संसाधन क्या हैं?
  • आधारभूत संरचना क्या है?
  • आपूर्तिकर्ता कौन है?
  • निर्माण संसाधन क्या है?
  • मार्केटिंग फंक्शन क्या है?
  • वितरण चैनल क्या है?
  • ब्रांड निष्ठा क्या है?

SWOT Analysis

6. Oppturnities और Threats  क्या है ?

अवसर और खतरे बाहरी वातावरण का विश्लेषण करते हैं।

अवसर और खतरा बाहरी करक है | ये आर्गेनाईजेशन को अपने लक्ष्य को पाने में मदद करता है | संभावना का मतलब ज्यादा profit करने की कितनी संभावना है | खतरा का मतलब कोई भी चुनौतियों को ताकत में बदलने का अवसर |
उदहारण के लिए -कोई भी कंपनी मार्किट में अपना प्रोडक्ट लांच करती है तो कंपनी को ये पता होना चाहिए कि प्रोडक्ट लांच करने का सही टाइम क्या है | और उसका competitor मार्किट में कौन सा नया टेक्नोलॉजी लेकर आ रही है | इसे चुनौतियोँ कहा जाता है |

बाहरी वातावरण के कुछ महत्वपूर्ण कारक |

  • प्रतियोगी कौन है?
  • उद्योग का वातावरण क्या है?
  • राजनीतिक माहौल क्या है?
  • तकनीकी वातावरण क्या है?
  • नैतिक वातावरण क्या है?
  • सरकार की नीतियां क्या हैं?
  • सामाजिक वातावरण क्या है?
  • जनसांख्यिकीय पर्यावरण क्या है?

7. SWOT Anyalsis का उद्देश्य

  • निर्णय लेने में सहायता करना
  • व्यवसाय में सफलता और विफलता से जुड़े महत्वपूर्ण कारक को व्यवस्थित करना
  • एक स्पष्ट सामान्य उद्देश्य और सफलता के कारक को समझना
  • बिक्री और लाभप्रदता का विश्लेषण करें

SWOT Analysis

8. SWOT Anyalsis कैसे लागू किया जाए?

  • आंतरिक और बाहरी वातावरण का विश्लेषण करें
  • ताकत और कमजोरी को पहचानें
  • अवसरों और कमजोरी को पहचानें
  • कार्ययोजना बनाएं
  • निष्कर्ष

SWOT Anyalsis के लाभ

  • रणनीतिक योजना में मदद
  • संगठन की ताकतवर बनता है |
  • व्यवसाय की कमजोरी का पतालगता है |
  • समस्या का समाधान
  • प्रतियोगी की पहचान करने में मदद करना
  • बिक्री बढ़ना
  • अधिकतम लाभ  होना

Consumer Behavior Process | A Complete Guide

SWOT Analysis Example

9. SWOT Anyalsis के उदाहरण :

स्वॉट एनालिसिस समझने के बाद अब हम स्वॉट एनालिसिस के कुछ उदहारण को समझेंगे |जैसा कि हम सभी जानते हैं, ताकत और कमजोरी आंतरिक कारक हैं। (आंतरिक कारक – जिसे हम आंतरिक रूप से मामले को नियंत्रित और बदल सकते हैं)।और, अवसर और खतरे बाहरी कारक हैं। (बाहरी कारक – जिसे हम नियंत्रित नहीं कर सकते हैं लेकिन स्थितियों के अनुरूप कार्य या परिवर्तन करते हैं)।

भारत में, हम सभी पतंजलि को जानते हैं। हर कोई दैनिक आधार पर पतंजलि के उत्पाद का उपयोग करता है और पतंजलि का ब्रांड सबसे तेजी से बढ़ने वाली एफएमसीजी (फास्ट-मूविंग कंज्यूमर गुड्स) कंपनी है। जनवरी / 2006 के बाद, पतंजलि ने भारत में पूरे बाजार को बदल दिया।तो, हम पतंजलि की सहायता से SWOT विश्लेषण के उदाहरण को समझ सकते हैं।

पतंजलि की Strength|

  • प्राकृतिक उत्पाद – यह एक प्राकृतिक उत्पाद की कंपनी है|
    पतंजलि प्राकृतिक, जैविक या हर्बल उत्पाद के रूप में अपने उत्पाद को बेचती है, जो हमारे लिए फायदेमंद है।
  • स्वदेशी अपनाओ – भारत के बाजार में, पतंजलि की छवि बाबा रामदेव के द्वारा बनाई गई है जो पतंजलि के ब्रांड एंबेसडर हैं, और एक टैगलाइन – स्वदेशीअपनाओ के साथ अपने उत्पाद बेचते हैं।
  • योग लाभ – इसके लाखों योग अनुयायी हैं, जो  पतंजलि का अनुसरण करते हैं।
  • मेड इन इंडिया – हम सभी भारतीय उत्पादों की खरीदारी करना चाहते हैं क्योंकि जब उत्पाद भारत में बनता है तो अन्य गैर-भारतीय ब्रांडों की तुलना में उत्पाद की लागत कम होगी, हम आसानी से भारतीय उत्पादों पर भरोसा कर सकते हैं।
  • कम लागत वाले उत्पाद – पतंजलि बेहतर गुणवत्ता के साथ कम कीमत पर उत्पाद प्रदान करती हैं |

पतंजलि की Weakness :

  • प्रतियोगिता स्तर – भारतीय बाजार में, कई अन्य कंपनियां हैं जो अपने उत्पाद को आयुर्वेदिक उत्पाद के रूप में बाजार में उतारती हैं। इसलिए, पतंजलि के लिए अन्य कंपनियों के साथ प्रतिस्पर्धा करना आसान नहीं है।
  • कुछ ही देशों में निर्यात – पतंजलि केवल कुछ देशों में अपने उत्पाद का निर्यातकरती है जैसे – U.K, U.S, नेपाल, और दुबई |
  • ब्रांड एंबेसडर – जैसा कि हम सभी जानते हैं किबाबा रामदेव पतंजलि के ब्रांड एंबेसडर हैं। जब कभी कंपनी बाबा रामदेव का नाम और चित्र हटा लेती है, तो पतंजलि के लिए यह एक बड़ा नुकसान हो सकता है।

 पतंजलि के Oppturnities :

  • नया स्टोर खोलें – पतंजलि सभी जगहों पर अपना स्टोर बढ़ा सकती है ताकि कंपनी इससे और अधिक लाभ ले सके।
  • पतंजलि शहरी और ग्रामीण क्षेत्र को लक्षित कर सकती है।
  • एफएमसीजी फ्यूचर – पतंजलि भविष्य में प्राकृतिक एफएमसीजी के सभी बाजारों पर कब्जा कर सकती है।
  • वैश्विक स्तर – पतंजलि के पास एक बड़ा अवसर है, वे वैश्विक स्तर पर भारत का प्रतिनिधित्व कर सकते हैं।

पतंजलि दूसरे देशों में अपना बाजार बना सकती है।

पतंजलि के Danger:

बाजार को अन्य कंपनियों द्वारा पहले से ही कब्जा कर लिया गया है, और पतंजलि के लिए उनके साथ प्रतिस्पर्धा करना आसान नहीं होगा |पतंजलि नकारात्मक नेगेटिव मार्केटिंग सामना कर सकती हैं क्योंकि कुछ दवा परीक्षणों में पतंजलि उत्पाद विफल रही है । यह कंपनी के लिए अच्छा संकेत नहीं है|

तो, यह SWOT ANALYSIS को समझने के लिए  एक सरल और संक्षिप्त उदाहरण था |और मैं उम्मीद करता हुँ की यह लेख आपके लिए उपयोगी सिद्ध होगा |

Pros

रणनीतिक योजना में मदद
संगठन की ताकतवर बनता है |
व्यवसाय की कमजोरी का पतालगता है |
समस्या का समाधान
प्रतियोगी की पहचान करने में मदद करना
बिक्री बढ़ना
अधिकतम लाभ  होना

SWOT Analysis क्या है? SWOT Analysis कैसे करते है? Complete Guide
  • Readers Rating
  • No Rating Yet!
  • Your Rating