none

क्या आप अपने बिज़नेस को एक बड़ा ब्रांड बनाना चाहते है ,क्या आप अपने प्रोडक्ट को घर घर तक पहुँचाना चाहते है,तो इसके लिए आपको कस्टमर के माइंडसेट को समझना होगा और कस्टमर के माइंडसेट को समझना पड़ेगा और कस्टमर के माइंडसेट को समझने के लिए आपको customer behavior को जानना पड़ेगा | Consumer Behavior एक ऐसी तकनीक है जिसके सहारे हम कस्टमर के पसंद और नापसंद को जान सकते है |

तो आज हम customer behavior को डिटेल में समझते है |

तो इसमें आपके लिए क्या है

1. Consumer behavior क्या है?
2 .Consumer behavior का क्या महत्व है ?
3 .Consumer behavior के प्रकार
4. Consumer behavior को कौन -कौन से कारक प्रभावित करती है ?
5. Consumer behavior के कौन-कौन से कारक है?

1. Consumer behavior क्या है?

consumer behavior को प्रभावित करने के बहुत सारे करक हैं | जैसे-cultural, social, personal, psychological, marketing campaigns, economic conditions, personal preferences अदि | इसलिए पहले हम consumer behavior के बारे में विस्तारित रूप से चर्चा करेंगे |

consumer behavior मुख्य रूप से लोगो पर एक स्टडी होती है जो कि group और organisations करती है ,consumer के खरीदने की क्षमता जो की goods ,experiences और rejection को देखकर की जाती है | ये बाजार में उनके action और उनके actions के पीछे motives को बताता है समान्य शब्दों में हम ये कह सकते है कि consumer behavior एक तरीका है जिसके द्वारा हम ये जान सकते है कि consumer कैसे decide करता है किउन्हें क्या चाहिए ,कैसे खरीदता है ,कैसे उपयोग करता है और उन चीजों से कैसे पीछा छुड़ाता है जो उन्हें नहीं चाहिए |

Consumer Behavior

How To Calculate Customer Value, Satisfaction & Loyalty | Complete Guide

2. Consumer behavior का क्या महत्व है ?

consumer behavior एक marketplace है जो कि बाजार में बहुत ज़्यादा contribute करती है इसको study करके market को पता चलता है कि मार्किट को कौनसे प्रोडक्ट चाहिए।,कौन सा प्रोडक्ट पुराना हो चुका है और कौन सा प्रोडक्ट consumer को कैसे दिखाना है consumer behavior समझने के बाद हम ये मान सकते है कि consumer एक एक्टर है और वो मार्किट में एक रोल निभाती कर रही है | consumer बहोत सारे role play करती है वो जानकारी देनेवाली का रोल निभाती  है user से payer का रोले निभाती  है ये role मुख्य रूप से खरीददारी करते समय निभाया जाता है | ये role अलग -अलग परिस्थियों में अलग -अलग हो सकती है |

जैसे – एक माँ influencer का role निभाती  Types of consumer behavior है|

 

3. Consumer behavior के प्रकार |

1.Complex Buying Behavior – इस प्रकार के consumer behavior में कंस्यूमर बहुत महगी चीजों की खरीदारी करती है | इसके लिए वो पहले से काफी रिसर्च कर रखी होती है |

2.Dissonance- reducing buying behavior –इस प्रकार के consumer behavior में consumer बहोत confused होती है | और उनके दिमाग में ये भी चलता है कि कही बाद में मुझे पछताना न पड़े |

3.Habitual Buying Behavior –इस प्रकार के consumer behavior में consumer को ब्रांड से कोई मतलब नहीं होता है उसे सिर्फ product से मतलब होता है चाहे वो product किसी भी ब्रांड का हो |

4.Variety seeking behavior –इस प्रकार के consumer behavior में consumer को हर बार अलग -अलग product चाहिए | |इसका मतलब ये नहीं है कि वो पहले प्रोडक्ट से satisfied नहीं थी | बस वो हर बार अलग -अलग product को try करना चाहती हैं |

4. Consumer behavior को कौन -कौन से कारक प्रभावित करती है ?

consumer behavior को प्रभावित करने के बहुत सारे कारक है | ऐसे कई करक है जो कि consumer behavior को प्रभावित करने महत्व्पूर्ण भूमिका निभाती है |

(1) Personal Factor: personal factor को प्रभावित करने के चार प्रमुख कारक है |

(A)Age aur lifecycle factor: age consumer के buying behavior को बहुत प्रभावित करती है | जैसे -जैसे लोगो की उम्र बढ़ती जाती है उनकी जरूरते बढ़ती जाती है कुछ product आगे के आधार पर होते है जैसे की baby bottle बच्चों के लिए बनते है क्यों कि कोई भी adult इसका उपयोग नहीं सकता है | कुछ companies particular age group को ध्यान में रखकर प्रोडक्ट बनती है | हर उम्र के लोगो की अलग -अलग जरूरते होती है | उम्र के साथ -साथ आदमी का रहन -सहन भी बदलती जाती हैं | जहाँ एक जवान आदमी entertainment के लिए पैसे खर्च करता है वही एक बूढ़ा आदमी health के लिए पैसे खर्च करेगा |

(B)Gender:consumer का buying behavior भी gender के साथ-साथ बदलता जाता हैं | एक male और एक female दोनों की अलग -अलग पसंद होती है | साथ ही दोनों की अलग -अलग जरूरते है कुछ चीजों में उनकी जरूरते सामान हो सकती है जैसे कि movies ,webseries ,food ,fun ,technological gadgets और travel | पर कुछ प्रोडक्ट दोनों में से किसी एक के लिए ही बने होते है | जैसे makeup products केवल female ही उपयोग क्र सकती है और shaving razer जैसे प्रोडक्ट्स केवल पुरुष ही उपयोग कर सकते है |

(C)Income:income भी consumer को एक प्रोडक्ट से दूसरे product या फिर एक ब्रांड से दूसरे ब्रांड में shift कर सकता है एक पढ़ा -लिखा आदमी बाजार जाने से पहले research करेगा जो कि एक अनपढ़ आदमी नहीं कर सकता है | जैसे-जैसे लोग शिक्षित हो रहे है वे उन्हें मिलने वाले प्रोडक्ट के बारे में अधिक जानना चाहते हैं | अब वो केवल advertisements पर निर्भर नहीं रहते | अब यदि कोई शिक्षित आदमी बाजार जा रहा है तो वो केवल वही प्रोडक्ट को खरीदता है जो उन्हें संतुस्ट करता है |

(D)Education: पढाई आदमी का दुनिया को देखने का नजरिया बदल देता है एक पढ़ा -लिखा आदमी बाजार जाने से पहले research करेगा जो कि एक अनपढ़ आदमी नहीं कर सकता है | जैसे-जैसे लोग शिक्षित हो रहे है वे उन्हें मिलने वाले प्रोडक्ट के बारे में अधिक जानना चाहते हैं | अब वो केवल advertisements पर निर्भर नहीं रहते | अब यदि कोई शिक्षित आदमी बाजार जा रहा है तो वो केवल वही प्रोडक्ट को खरीदता है जो उन्हें संतुस्ट करता है |

(2) Psychological factors:psychological factors वो होते है जो customer को physically और mentally रूप से प्रभावित करती है | उनमे से कुछ है –

(A)Perception:

धारना यह है कि consumer आपके प्रोडक्ट को कैसे देखता है और उसे कैसे define करता है ये कई कारक पर depend करता है जैसे किconsumer आपके ब्रांड क बारे में क्या सोचता है ,क्या सुनता है और क्या समझता है किसी product बारे में consumer की सोच उसकी decisions को बदल सकता है |
जैसे कि हम जानते है कि first impression, last impression होता है | इसलिए यदि कोई ब्रांड अपने product का अच्छे से प्रचार करती है तो वो कस्टमर के दिमाग एक लम्बा और effective छाप छोड़ सकती है |

 (B)Learning:

learning एक process है जिससे पता चलता है कि कस्टमर किसी प्रोडक्ट का उपयोग कर उसके बारे में क्या याद रखता है |और ये positive और negative भी हो सकता है | वे उस प्रोडक्ट को future में खरीदेगा कि नहीं इससे ये भी पता चलता है यदि प्रोडक्ट की गुणवत्ता,कीमत और सेवा ने
consumer को ठीक से संतुस्ट किया है और उसके expectations को पूरा किया है तभी वो उसे future में लेने की सोचेगा |

(C)Motivation: 

motivation एक आतंरिक शक्ति है जो consumer को एक विशेष प्रोडक्ट खरीदने के लिए encourage करती है जब कोई consumer यह निर्णय लेता है कि मुझे यह प्रोडक्ट खरीदना चाहिए | और मुझे ये प्रोडक्ट किसी भी तरह चाहिए तो ये चीजे प्रोडक्ट के फेवर में काम करती है |

 (D)Attitude and beliefs:

कभी -कभी customer किसी विशेष product के साथ अपने belief को attach कर लेती है | जब कोई consumer का किसी विशेष प्रोडक्ट के साथ एक mindset बन जाता है और वो उसे सच मनती है | एक belief positive भी हो सकता है और negative भी | attitude से पता चलता है कि कोई कस्टमर किसी प्रोडक्ट के बारे में क्या respond करता है जो कि उसके belief पर depend करता है |

(3) Cultural Factors: consumer behavior को प्रभावित करने वाले cultural factors:

culture एक समूह है उन belifs और perception का जिसमे एक एक आदमी अपने परिवार और समाज से बहुत अर्ली स्टेज में सीखता है | और उसको follow करता है | culture को food ,tradition और behavior के रूप में भी बाँटा जा सकता है |

उदहारण के लिए अमेरिका का culture इंडिया से अलग है अमेरिका में female western कपड़े पसंद करती है जब कि इंडिया में फीमेल साड़ी पसंद करती है |

 (B)Sub-culture:

हर culture को sab-culture में बाँटा जा सकता है जैसे की gender ,class और caste | और सभी कि अपनी -अपनी belief होती है जैसे कि हिन्दू शादी में लाल लेहेंगा पहने जाते है जबकि क्रिस्टन marriages में वाइट गाउन पसंद किया जाता है | एक upper class का आदमी luxurious item पर खर्च करेगा जबकि एक lower class का आदमी cheap प्रोडक्ट्स पर खर्च करेगा | और एक जेंडर में ये माना जाता है कि केवल फीमेल ही fareness cream का use कर सकती है |

(C)Social class:

जब किसी society को उसके social standing ,economic के aadhar और उसके wealth पर बाँटा जाता है तो उसे social class कहा जाता है |
social class को income ,education और occupation के आधार पर बनाया जाता है | social class consumer के behavior को प्रभावित करता है क्योकि लोग अपनी purchase ,consumption और यहाँ तक की intract भी social standing के आधार पर करते है |

(4) Social Factors: social factors society से सम्बन्धित है और mainly  consumer behavior को social फैक्टर्स प्रभावित करती हैं |

 (A)Family: 

जब लोग एक दूसरे से related होते है चाहे वो blood से हो या adoption से या फिर एक साथ रहने से तो उसे family कहते है | consumer behavior को influence करने में परिवार एक बड़ी भूमिका निभाती है क्योकि एक आदमी अपने परिवार के अनुसार ही अपने personality ,faith ,धारणा और स्वाद को बनता है |

जैसे कि एक बच्चा अपनी decisions अपनी family के अनुसार ही बनता है क्योकि वो उनपर depend होता है जिसके परिवार में सारे decisions पुरुष मुखिया द्वारा ही लिए जाते है |

  (B)Reference group: 

reference group ऐसे लोगो का समूह है जिनकी सलाह indivisual खरीदारी करते समय लिए जाते है | reference group consumer के behavior को influence कर सकती है क्योंकि किसी आदमी का beliefs ,perception ,values aur behavior आम तौर पर reference groupसे प्रभावित होती है |

 (C)Social Role and status:

किसी आदमी का role किसी ग्रुप में उसके position के आधार पर decide होता है | लोग समाज में अपने role और status के आधार पर खरीददारी करते है वो ऐसे product की खरीददारी करते है जिन्हें वो अपने group में status के रूप में दिखा सके | इसलिए marketers को अपने target customer के status के आधार पर product बनाना चाहिए |
जैसे की -mobile और cars आज के टाइम में एक status सिंबल हैं |

5. Consumer behavior को प्रभावित करने के पाँच कारक |

 1.purchasing power:

consumer behavior को प्रभावित करने में purchasing power बहोत महत्वपूर्ण भूमिका निभाती  हैं | आम तौर पर consumer किसी भी उत्पाद या सेवा को खरीदने से पहले consumer की purchasing power के साथ-साथ अपने बचत के बारे में सोचती है | इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आपका प्रोडक्ट कैसा है | यदि वो consumer की जरूरतों को पूरा करती है तो consumer उसे ख़रीदेगा | consumer behavior और purchasing power consumer को बेहतर product खरीदने में मदद करता है |

2.Group effect:

consumer behavior को प्रभावित करने में group effect बहोत महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है | mainly,group effect में परिवार के member ,करीबी दोस्त और तत्काल रिस्तेदार शामिल होते है |

उदहारण के लिए phone में iphone group effect का उदहारण है |

3.personal priority :

personally, consumer का behavior पसंद ,नापसंद और भरोसा विभिन्न रूप से प्रभावित होती है |व्यक्तिगत देखभाल consumer का व्यक्तिगत सोच ,जैसे fashion और खादी उद्योग व्यक्तिगत सोच पर आधारित है |
विज्ञापन सोच को कुछ हद तक प्रभावित कर सकती है | | consumer का पसंद और नापसंद उपभोक्ता के खरीददारी पर प्रभाव डालती है |

4.Internal power:

consumer के सोच को प्रभावित करने में internal power महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है | consumer का निर्णय बाजार की खरीददारी को प्रभावित करती है | जब भी बाजार की economy बढ़ रही होती है तो कस्टमर की खरीददारी भी बढ़ जाती है | जब भी economy नीचे जाती है तो कस्टमर के खरीददारी पर प्रभाव पड़ता है | positive internal वातावरण consumer को आत्मविश्वास के साथ खरीददारी करने में मदद करती है |

5.Marketing campaigns:

marketing campaigns consumer की खरीददारी पर काफी असर डालती है | marketing campaigns consumer के क्रय निर्णयऔर बाजार शेयरों में एक महान परिवर्तन लाने के लिए भी जानी जाती है | marketing campaigns उपभोक्ता को इस हद तक प्रभावित कर सकती है कि consumer एक ब्रांड के बदले दूसरे ब्रांड के बदले चुन सकती है या बड़ी खरीददारी कर सकती है | नियमित रूप से की जनि वाली मार्केटिंग अभियान कंस्यूमर को अच्छा प्रोडक्ट ,बीमा पालिसी और रोमांचक उत्पादों की खरीददारी करने की याद दिलाने में मदद करती है |

Consumer Behavior Process In Hindi
  • Readers Rating
  • No Rating Yet!
  • Your Rating